Friday, September 23, 2016

CAMBA Awareness campaign by SAKSHAM, Chennai


SAKSHAM (Samadrusti Kshamata Vikas Evam Anusandhan Mandal), works among persons with various disabilities. An awareness programme on the importance and divinity of Eye Donation especially CAMBA (Cornea Andhatv Mukht Bharat Abhiyan – Corneal Blindness Free Bharat Movement) was conducted by Thiruvotriyur Unit of SAKSHAM along with JHA Agarson College NSS Team students at Madhavaram. 50 people had registered for donating the eyes.

சக்ஷம் சேவாபாரதி தமிழ்நாடு திருவொற்றியூர் மற்றும் JHA Agarsion college NSS team இணைந்து நடத்திய கண் தான விழிப்புணர்வு பிரச்சாரம் - ஆவின் பூங்கா மாதவரம் பால் பண்ணை. 50 நபர்கள் கண் தானம் வழங்க பதிவு செய்தனர். 
 

Tamilnadu will become ‘another Gujarat’, Hindu Munnani




Hindu Munnani State President Kadeshwara C Subramaniam, in a press meet, blamed the failure of intelligence and police inaction in preventing the untoward happenings on Hindu activists in the state. He also blamed on the inaction of State Government in cracking the cases. Pointing the continuous attack on Hindu Munnani workers from the day one of Ganesh Chathurthi celebrations this year, to name –
-stone pelting during Vellore Vinayaka Procession;
-petrol bomb hurling at the house of Vellore District President Magesh;
-petrol bomb hurling at the bus company of Vellore Joint District President Srinivasan;
-petrol bomb hurling at the banian factory of Tiruppur District Treasurer;
-Brutal attack on Shankar Ganesh at Dindugal;
-Brutal murder of Sasikumar at Coimbatore.
He warned the State Government that if the attack and murder on the Hindu organizations in the State continues, ‘Tamilnadu will become ‘another Gujarat’”.
As the news spread, it is said, schools, shops and factories were closed in sensitive districts of the State. Hindu Munnani is staging protest demo across the state condemning the brutal attack on Hindu organizations.  

https://youtu.be/8J2x6xcTqKY

Murder, attacks on Hindus continues in Tamilnadu with no justice

Hindu Munnani Coimbatore District spokesperson Sasikumar (36) was hacked to death by unidentified persons on Thursday night. Sasikumar was returning home at 10.30 pm. Then at two motorcycles and four unidentified persons who followed him suddenly interrupted the vehicle and started attacking. Sasikumar managed to run away, but the unidentified miscreants hacked him with sickles and ran away. Lying in the pool of blood on the road, local residents immediately took him to the nearby private hospital and admitted there. But he could not be saved, he passed away. Outraged Hindu activists staged a demo before the Commissioner office at Coimbatore for justice. Hindu Munnani State President Shri Kadeswara Subramaniam strongly condemned the brutal attack and called for a state-wide bandh today. 

Hindu Munnani activist murdered, called for a state-wide bandh

Hindu Munnani Coimbatore spokesperson Sasikumar (36) was brutally murdered by miscreants late night.  Hindu Munnani State President Shri Kadeswara Subramaniam strongly condemned the brutal activity and called for a state-wide bandh today.



கோவையில் இந்து முன்னணி நிர்வாகி மர்ம நபர்களால் வியாழக்கிழமை இரவு வெட்டிக் கொலை செய்யப்பட்டார்.
இந்து முன்னணி அமைப்பின் கோவை மாநகர் மாவட்ட செய்தித் தொடர்பாளர் பொறுப்பில் இருந்து வந்தவர் சசிகுமார் (36). அவரது வீடு, கோவை, மேட்டுப்பாளையம் சாலை, கவுண்டர்மில் அருகே உள்ள சுப்பிரமணியபுரம் பகுதியில் உள்ளது.
இந்நிலையில், சசிகுமார் இருசக்கர வாகனத்தில் வியாழக்கிழமை இரவு 10.30 மணியளவில் வீடு திரும்பிக் கொண்டிருந்தார். அப்போது, 2 இருசக்கர வாகனங்களில் அவரைப் பின் தொடர்ந்து சென்ற மர்ம நபர்கள் நால்வர், அவரது வாகனத்தை வழிமறித்துத் தாக்கியுள்ளனர். அங்கிருந்து தப்பியோடி சசிகுமாரைத் துரத்திச் சென்ற மர்ம நபர்கள், அவரை அரிவாளால் சரமாரியாக வெட்டிவிட்டு தப்பிச் சென்றனர்.
ரத்த வெள்ளத்தில் கீழே சரிந்து கிடந்த சசிகுமாரை, அருகில் இருந்தவர்கள் மீட்டு தனியார் மருத்துவமனையில் சேர்த்தனர். அங்கு அவர் உயிரிழந்தார். அவரது சடலம் கோவை அரசு மருத்துவக் கல்லூரி மருத்துவமனைக்குக் கொண்டு செல்லப்பட்டது.
இத்தகவல் பரவியதும் இந்து முன்னணியினர், பாஜகவினர், ஆர்.எஸ்.எஸ். அமைப்பினர் உள்ளிட்ட பல்வேறு இந்து அமைப்புகளின் பிரதிநிதிகள், சசிகுமார் அனுமதிக்கப்பட்டிருந்த தனியார் மருத்துவமனை முன்பாகவும், கோவை அரசு மருத்துவக் கல்லூரி மருத்துவமனை முன்பாகவும் திரண்டு, காவல் துறைக்கு எதிராக கோஷங்களை எழுப்பினர்.
சசிகுமார் அனுமதிக்கப்பட்டிருந்த தனியார் மருத்துவமனைக்கு வந்த கோவை மாநகரக் காவல் ஆணையர் அமல்ராஜை இந்து அமைப்புகளின் நிர்வாகிகள் முற்றுகையிட்டு தக்க நடவடிக்கை எடுக்குமாறு கோஷமிட்டனர்.
கொல்லப்பட்ட சசிகுமாருக்கு யமுனா என்ற மனைவி உள்ளார். இவரது சகோதரர் சுதாகர் பாஜக இளைஞரணியின் கோவை மாவட்டச் செயலாளராக உள்ளார்.
சசிகுமார் படுகொலையை அடுத்து கோவை மாநகரில் பதற்றம் ஏற்பட்டுள்ளது. போலீஸார் முக்கிய பகுதிகளில் குவிக்கப்பட்டுள்ளனர்.
இதனிடையே, சசிகமுரின் உடலைப் பார்வையிட வந்த மாநில இந்து முன்னணி தலைவர் காடேஸ்வரா சுப்பிரணியம், கோவையில் வெள்ளிக்கிழமை பந்த் நடத்தப்படும் என்று அறிவித்துள்ளார்.
(Dinamani)

Thursday, September 22, 2016

Cleanliness message to the country from a remote district

In the whole of the country as well as Chhattisgarh State, school students of Kabirdham (Kawardha) district gave a new message on cleanliness. Children made concrete efforts to bring awareness on cleanliness in the district. For this, 1.5 lakh school children prepared and organized 25,984 dustbins. The School children went to each home and shops, made them to resolve for cleanliness. Chhattisgarh School Education Minister Shri Kedar Kashyapp participated in the programme and said that these children are giving the entire country a unique message on cleanliness. The efforts of the school children not only in their place, but also working in neighbourhood, city, village and district is highly inspiring. This increasing public awareness about swachththa is admirable, he said. 

Record in history – One lakh people sang ‘Vande Mataram’ in one voice

One lakh participants sang ‘Vande Mataram’ in one voice, in an event ‘Voice of Unity’ organized by Hindu Spiritual and Service Foundation, Jaipur and created a record in our history. Rajasthan Chief Minister Vasundhara Raje, RSS Akhil Bharathiya Sah Seva Pramuk Shri Gunawant Singh, Vishwa Vibhag Shri Ravikumar, Akhil Bharatiya Sah Sharirik Shikshana Pramuk Shri Jagdish Ji, Sah Baudhdhik Pramuk Shri Mukund Ji, Kshetra Pracharak Shri Durgadass Ji participated in the event. 504 musicians from all parts of the country played different instruments. Jaipur will witness a mega seva mela from 205 seva organizations from 23rd to 26th September. 2016. CM Vasundhara Raje in her speech said that this event will give a great message that our citizens are dedicated and are patriotic. 


एक लाख लोगों ने एक साथ वन्देमातरम् गाकर रिकार्ड बनाया
विसंकेंजयपुर 
हिन्दू आध्यात्मिक एवं सेवा फाउण्डेशन, जयपुर के तत्वावधान में अमरूदों के बाग जयपुर में लगभग एक लाख से अधिक लोगों ने एक साथ राष्ट्रगीत वन्देमातरम् का गायन करके रिकार्ड बनाया. इनमें देश भर से आये 504 कलाकारों ने 18 प्रकार के वाद्य यंत्रों के साथ मंच पर भगवा, श्वेत एवं हरे रंग के परिधानों में वाद्य कला का प्रदर्शन किया. पं. आलोक भट्ट के संगीत निर्देशन में पूरे 100 मिनट संगीतमय कार्यक्रम में श्रोता रस विभोर रहे. विक्रम हाज़रा और सौम्य ज्योतिघोष द्वारा बांसुरी पर संगत की गई तो शंख वादन जयकिशन और अश्विनी घोष द्वारा किया गया.
कार्यक्रम की मुख्य अतिथि राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे, विशिष्ठ अतिथि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सह सेवा प्रमुख गुणवंत सिंह जी, विश्व विभाग के सह संयोजक रवि कुमार जी, संघ के अखिल भारतीय सह शारीरिक शिक्षण प्रमुख जगदीश जी, सह बौद्धिक प्रमुख मुकुंद जी, क्षेत्रीय प्रचारक दुर्गादास जी भी कार्यक्रम में उपस्थित रहे.
शंख वादन से प्रारम्भ हुए कार्यक्रम में सभी 504 कलाकारों और श्रोताओं द्वारा पूरा साथ निभाया गया. सर्वप्रथम गणेश वन्दना के बाद देशभक्ति गीत पर उपस्थित जनों ने तालियों से लय में लय मिलायी. तत्पश्चात विभिन्न देशभक्ति गीतों की प्रस्तुति के बाद अन्त में एक साथ खड़े होकर राष्ट्रगीत वन्देमातरम् का सामूहिक गायन हुआ जो देश ही नहीं वरन् विश्व के इतिहास में शायद एक रिकार्ड है.
गुणवंत सिंह जी ने कहा कि डेढ़ सौ वर्ष पूर्व शिकागो में स्वामी विवेकानन्द ने मेरे भाईयों और बहनों के सम्बोधन से सम्बोधित किया था. पहली बार लोगों ने लेडीज एण्ड जेण्टलमैन के स्थान पर जब प्यारे भाईयो और बहनों सुना तो हिन्दू संस्कृति का तालियों से स्वागत हुआ. सन् 1905 में जब अंग्रेजों ने बंगाल विभाजन किया तो बंकिम चन्द्र चटर्जी द्वारा सन् 1876 में लिखित इस गीत (वंदे मातरम्) ने राष्ट्र भाव की ज्वाला पैदा की तो अंग्रेजों को बंगाल विभाजन के आदेश को वापस लेना पड़ा. तब से अब तक यह गीत देशवासियों में राष्ट्रभाव की अलख जगा रहा है. इस गीत का एक एक शब्द देश भक्ति से ओत-प्रोत है. उन्होंने कहा कि हिन्दू आध्यात्मिक एवं सेवा मेला आयोजित करने का उद्देश्य हिन्दू समाज की भिन्न-भिन्न संस्थाओं, व्यक्तियों, साधू संतों, मंदिर मठों द्वारा प्राणी मात्र हित में निःस्वार्थ भाव से जो सेवाएं दी जा रही हैं, उनका परिचय जन-जन को कराना है. वर्तमान समय में पर्यावरण सुरक्षा का संकट है, नारी के प्रति सम्मान में कमी हुई है, मानवीय मूल्यों में कमी हुई है, जिन्हें दूर करने के लिये सारा विश्व भारत की ओर देख रहा है. हिन्दू आध्यात्मिक एवं सेवा मेला इन सब समस्याओं का समाधान देने का मंच हो सकता है. उन्होंने अरनाल टायनी, कॉफी अन्नान द्वारा कही गई बातों का उल्लेख करते हुए कहा कि वे चाहते हैं कि हिन्दू धर्म के अनुयायी ही बिना धर्म परिवर्तन कराये पूरे विश्व को मानवता का पाठ पढ़ायें. उन्हें विश्वास है कि विश्व जिस विकट स्थिति में है, उससे निकालने का कार्य हिन्दू ही कर सकते हैं. विश्व हमसे जो चाहता है, उसे हम आगामी 10-15 वर्षों में पूरा करने का संकल्प लें. भारत के परिवारों में रोटी बनाते समय पहली रोटी गाय की और दूसरी कुत्ते की बनाते हैं, जिससे सेवा भाव जगता है. सितम्बर 23 से 26 तक चलने वाले हिन्दू आध्यात्मिक एवं सेवा मेले में 205 सेवा संस्थाओं द्वारा सेवाओं का प्रकटीकरण किया जाएगा.
मुख्य अतिथि राज्य की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे जी ने सबका स्वागत करते हुए कहा कि आज के इस कार्यक्रम की गूंज पूरे देश में होगी. यह कार्यक्रम सब लोगों के लिये राष्ट्रभाव सीखने का है. कुछ दिनों पूर्व तिरंगा यात्रा कार्यक्रम हुआ. उसमें एक दो जगह दुर्घटनाएं हुई, जिन लोगों ने तिरंगा झण्डा अपने हाथ में ले रखा था, वे भी घायल हुए. किन्तु उन्होंने कहने के बाद भी अपने हाथ से यह कहते हुए झण्डा नहीं छोड़ा कि देश का जवान मरते दम तक राष्ट्रध्वज को नहीं छोड़ता तो थोड़ी सी चोट के कारण मैं क्यों छोडूं. वन्दे मातरम् जीवन का लक्ष्य है. हिन्दू एक रिलीजन नहीं है, यह जीवन जीने की पद्धति है. इस बात पर चिन्ता व्यक्त की कि आज लोग घर से बाहर निकल कर एक दूसरे को देख कर मुस्कराना ही भूल गये. उन्होंने आग्रह किया कि वन्दे मातरम् के साथ यह संकल्प भी लें कि हम एक दूसरे को प्यार से देखेंगे, सबसे प्यार से मिलेंगे, गले मिलना होगा गले मिलेंगे. उन्होंने प्रतिज्ञा करवाई.
600 दिव्यांग बच्चे व युवा भी सम्मिलित हुए
कार्यक्रम में लगभग 600 दिव्यांग बच्चे व युवा भी सम्मिलित हुए. थे जिन्होंने वन्देमातरम् सांकेतिक भाषा में गाया. कार्यक्रम में तीन अर्जुन अवार्डी खिलाड़ियों ने भी शिरकत की. कार्यक्रम का संचालन डॉ. ज्योति जोशी ने किया. पंडाल में श्रोताओं को बिठाने की व्यवस्था में सैकड़ों कार्यकर्ताओं का सहयोग रहा, राजस्थान पुलिस के सिपाहियों ने भी तत्परता से सहयोग किया.

Punjab Pranth Sah Sanghachalak passed away






Punjab Pranth Sah Sanghchalak Brig Jagdish Gagneja passed away today morning.  On August 6, 2016 unidentified miscreants shot him and he was seriously injured.  Brig. Jagdish was admitted in extremely critical condition in Dayanand Medical Hospital, Ludhiana. He passed away today (Thursday) 22nd September morning.
Rejecting spontaneously the security sought to him, he said he is not a specific person, but an ordinary citizen of this country.  The entire country belongs to him and all are brothers and sisters.  There is no threat of any kind from such brothers.  


जालंधर (विसंकें). राष्ट्रीय स्ययंसेवक संघ पंजाब प्रांत के सह संघचालक ब्रिगेडियर (सेवानिवृत) जगदीश गगनेजा जी का आज सुबह निधन हो गया. 06 अगस्त, 2016 की शाम जालंधर के ज्योति चौक पर अज्ञात हमलावरों ने उन्हें गोलियां मार कर गंभीर रूप से जख्मी कर दिया था. गगनेजा जी को अति गंभीर हालत में लुधियाना के दयानंद मेडिकल अस्पताल में भर्ती करवाया गया था, जहां वीरवार 22 सितंबर की सुबह उनका स्वर्गवास हो गया.

जीवन में सादगी इतनी थी कि प्रशासन ने उन्हें सुरक्षा उपलब्ध करवाने का आग्रह किया तो उन्होंने इसे सहजभाव से अस्वीकार कर दिया. उनका कहना था कि वे कोई विशिष्ट व्यक्ति नहीं, बल्कि इस देश के साधारण नागरिक हैं. पूरा देश उन्हीं का है और सभी मेरे भाई-बंधू हैं. मुझे अपने किसी बंधू से किसी तरह का कोई खतरा नहीं है.

Tuesday, September 20, 2016

Hindu Munnani member attacked seriously, Protests all over Tamilnadu



Shankar Ganesh, an Executive Committee Member of Hindu Munnani, Dindigul unit was attacked by a gang with lethal weapons on Monday night.  Ganesh was immediately rushed to the hospital and is under treatment. Miscreants escaped after the attack. 
Sources say that the persons who attacked Shankar Ganesh were recently converted to Islam. Hindu Munnani called for a protest demonstration against the jihadi activities in Tamilnadu today and appealed for stern action against the miscreants.  Thousands of Hindu Munnani activists participated in the protest demo. State President, Hindu Munnani, Shri Kadeswara Subramaniam strongly condemned the activities and said that Hindu Munnani will spread and create awareness of jihadi activities happening in Tamilnadu.